कच्चा आम यानी कैरी को देखकर ललचा जाते हैं? जानें लें इसके ये बड़े फायदे

0


Benefits Of Raw Mango In Summer : गर्मी के मौसम में आम खाना किसे पसंद नहीं होता. पके हुए मीठे आम के अलावा लोग कच्‍ची कैरी भी बड़े शौक से खाते हैं. स्‍वाद में खट्टी मीठी चटपटी कैरी दरअसल स्‍वाद में तो मजेदार होती ही है इसके गुण भी कई हैं. कच्‍चे आम में विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन बी-6 और विटामिन के भरपूर मात्रा में पाया जाता है. यही नहीं, इसमें मैग्‍नेशियम, कैल्शियम, आयरन, डायटरी फाइबर भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं जो लिवर को हेल्‍दी रखने में काफी कारगर है. इसके अलावा इसमें कई एंटी ऑक्सिडेंट तत्‍व मौजूद होते हैं जो शरीर को हेल्‍दी रखने में मदद करते हैं. आप इसे किसी भी रूप में खा सकते हैं जैसे चटनी, आम पन्‍ना, शरबत आदि. तो आइए pharmeasy.in पर प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, जानते हैं कि कच्‍चे आम के अन्‍य क्‍या क्‍या फायदे हैं जिनकी वजह से हमें इन्‍हें गर्मी के मौसम में अपने भोजन में जरूर शामिल करना चाहिए. -गर्मी के मौसम में यह शरीर को लू से बचाता है और शरीर को हाइड्रेट रखता है. यह शरीर से सोडियम क्‍लोराइड और आयरन के एक्‍सेसिव बहाव को रोकता है. इसे भी पढ़ें : ग्वार फली के सेवन से कई गंभीर बीमारियां रहती हैं दूर, पेट से लेक‍र हार्ट तक के लिए है बहुत फायदेमंद

 

– यह गर्मी के मौसम में शरीर पर होने वाली घमौरियों में आराम देता है और इन्‍हें होने से रोकता है. – गर्मी के दिनों में आप वर्कआउट के बाद भी इसका सेवन कर सकते है, यह तुरंत आपको रीहाइड्रेट करेगा.
-इसमें मौजूद विटामिन सी, विटामिन के और एंटीऑक्सिडेंट गुणों के कारण बेहतरीन इम्‍यूनिटी बूस्‍टर  है जो शरीर में वाइट ब्‍लड सेल्‍स को बढ़ाता है जिससे हमारी बॉडी बाहरी वायरस से लड़ने में सक्षम बनती हैं. -अगर आपको एसिडिटी या अपच जैसी समस्या हो रही हैं तो कच्चे आम का सेवन आपके लिए काफी लाभदायक होगा. यह कब्ज और पेट के सभी विकारों से निपटने में आपकी मदद करेगा. -ऊल्टी आना या फिर जी मचलाने की समस्या हो तो कच्चे आम में काले नमक डालकर सेवन करें, आपको निजात दिला सकता है. -कच्चे आम का नियमित सेवन कर न केवल आप अपने बालों को काला बनाए रख सकते हैं बल्कि बेदाग और दमकती हुई त्वचा आसानी से पा सकते हैं. इससे त्वचा में कसाव भी बना रहता है. -शुगर की समस्या हो तो इसके सेवन से आपका शुगर लेवल भी कम रहता है. इसका प्रयोग कर आप शरीर में आयरन की पूर्ति भी आसानी से कर सकते हैं. -अगर आपको मॉर्निंग सिकनेस, एसिडिटी, कब्‍ज आदि की समस्‍या रह रही है तो यह आपके एन्‍जाइम को बेहतर बनाता है और इन समस्‍याओं से बचाता है. – यह हेल्‍दी हार्ट के लिए भी फायदेमंद है. यह कोलस्‍ट्रॉल और फैटी एसिड लेवल को नियंत्रित रखता है जिस वजह से आपका हार्ट भी सेहतमंद रहता है. इसे भी पढ़ें : दूध पीने का सही समय क्‍या है और इसे कब पीना हो सकता है नुकसानदेह? जानें – अगर आपके मसूड़ों से खून आता है या किसी तरह का डेंटल प्रॉब्‍लम है तो इसका सेवन लाभकारी है. -यह आंखों के रेटिना और आई साइट को इंप्रूव करता है और आंखों की समस्‍या को दूर करता है. – यह ब्‍लड क्‍लॉट फॉरमेशन, एनिमिया, हेमोफिला जैसे ब्‍लड डिजीज को ठीक करता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
nwGTMScript();
nwPWAScript();
fb_pixel_code();
});
function nwGTMScript() {
(function(w,d,s,l,i){w[l]=w[l]||[];w[l].push({‘gtm.start’:
new Date().getTime(),event:’gtm.js’});var f=d.getElementsByTagName(s)[0],
j=d.createElement(s),dl=l!=’dataLayer’?’&l=”+l:”‘;j.async=true;j.src=”https://www.googletagmanager.com/gtm.js?id=”+i+dl;f.parentNode.insertBefore(j,f);
})(window,document,’script’,’dataLayer’,’GTM-PBM75F9′);
}

function nwPWAScript(){
var PWT = {};
var googletag = googletag || {};
googletag.cmd = googletag.cmd || [];
var gptRan = false;
PWT.jsLoaded = function() {
loadGpt();
};
(function() {
var purl = window.location.href;
var url=”//ads.pubmatic.com/AdServer/js/pwt/113941/2060″;
var profileVersionId = ”;
if (purl.indexOf(‘pwtv=’) > 0) {
var regexp = /pwtv=(.*?)(&|$)/g;
var matches = regexp.exec(purl);
if (matches.length >= 2 && matches[1].length > 0) {
profileVersionId = “https://hindi.news18.com/” + matches[1];
}
}
var wtads = document.createElement(‘script’);
wtads.async = true;
wtads.type=”text/javascript”;
wtads.src = url + profileVersionId + ‘/pwt.js’;
var node = document.getElementsByTagName(‘script’)[0];
node.parentNode.insertBefore(wtads, node);
})();
var loadGpt = function() {
// Check the gptRan flag
if (!gptRan) {
gptRan = true;
var gads = document.createElement(‘script’);
var useSSL = ‘https:’ == document.location.protocol;
gads.src = (useSSL ? ‘https:’ : ‘http:’) + ‘//www.googletagservices.com/tag/js/gpt.js’;
var node = document.getElementsByTagName(‘script’)[0];
node.parentNode.insertBefore(gads, node);
}
}
// Failsafe to call gpt
setTimeout(loadGpt, 500);
}

// this function will act as a lock and will call the GPT API
function initAdserver(forced) {
if((forced === true && window.initAdserverFlag !== true) || (PWT.a9_BidsReceived && PWT.ow_BidsReceived)){
window.initAdserverFlag = true;
PWT.a9_BidsReceived = PWT.ow_BidsReceived = false;
googletag.pubads().refresh();
}
}

function fb_pixel_code() {
(function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
})(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);
}



Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.