Approx 50 Roads Including Chandigarh Manali Highway Closed Due To Heavy Rainfall In Mandi – मंडी में मुसीबत: चंडीगढ़- मनाली एनएच का संपर्क पूरी तरह से कटा, जिले भर में 50 सड़कें बंद

0
177


अमर उजाला नेटवर्क, मंडी
Published by: प्राची प्रियम
Updated Mon, 19 Jul 2021 12:42 PM IST

सार

मंडी जिले में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण लोगों के घरों में पानी घुस गया है। नदी नाले उफान पर हैं। सड़कों पर यातयात भी प्रभावित हो रहा है।

सड़कों पर फंसे वाहन
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

मंडी में रविवार देर रात से मूसलाधार बारिश के कारण सामरिक महत्व वाले चंडीगढ़ मनाली एनएच का संपर्क पूरी तरह से कट गया है। सात मील के पास भारी भूस्खलन से मार्ग बंद पड़ा है। पहाड़ियों से गिर रहे मलबे की चपेट में आने से एक वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया है। हालांकि वाहन में सवार सभी लोग सुरक्षित बताए जा रहे हैं। 

वहीं वैकल्पिक कमांद बजौर मार्ग भी ठप है। बारिश के कहर से जिलेभर में पचास के करीब मार्ग बंद हैं। सरकाघाट-धर्मपुर एनएच पर भी पहिए थम गए हैं। वहीं, भारी बारिश से नदी नाले भी उफान पर हैं। प्रशासन ने नदी नालों के किनारे बसे लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने की हिदायत दी है। 

डीसी मंडी अरिंदम चौधरी ने सड़कों के बंद होने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि प्रभावित सड़कों को ठीक करने के लिए मशीनरी व लेबर तैनात किए गए हैं। लेकिन भारी बारिश के चलते कार्य में बाधा आ रही है।

कांगड़ा में भी हो रही दिक्कत
कांगड़ा में बारिश से एक बार फिर जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई जगहों से भूस्खलन की खबरें आ रही हैं और इसी के कारण से पालमपुर-सुजानपुर हाईवे भाटिलु में बाधित हो गया है। 
 
वहीं देहरा-होशियारपुर (एनएच-503) सड़क व्यास पुल के निकट पहाड़ी का मलबा गिरने के कारण बंद हो गई है। पिछले दो-तीन घंटे से एनएच पर लगा जाम लगा हुआ है। पालमपुर में भारी बारिश के चलते पालमपुर-धर्मशाला वाया नगरी रोड बंद हो गया है। इस रोड पर यातायात सुबह चार बजे से प्रभावित है।

पालमपुर व धर्मशाला आने जाने वाली बसें अब लतवाला होते हुए जा रही हैं। लोगों को इस कारण काफी परेशानी हो रही है। लंज गगल धर्मशाला रोड दो तीन जगहों पर बंद होने की जानकारी आ रही है। बरोट घटासनी , बरोट लोहारडी, बरोट मियोट मुलथान, कोठी कोढ बोचीग रोलीग, सड़कें बंद हो गई हैं।

विस्तार

मंडी में रविवार देर रात से मूसलाधार बारिश के कारण सामरिक महत्व वाले चंडीगढ़ मनाली एनएच का संपर्क पूरी तरह से कट गया है। सात मील के पास भारी भूस्खलन से मार्ग बंद पड़ा है। पहाड़ियों से गिर रहे मलबे की चपेट में आने से एक वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया है। हालांकि वाहन में सवार सभी लोग सुरक्षित बताए जा रहे हैं। 

वहीं वैकल्पिक कमांद बजौर मार्ग भी ठप है। बारिश के कहर से जिलेभर में पचास के करीब मार्ग बंद हैं। सरकाघाट-धर्मपुर एनएच पर भी पहिए थम गए हैं। वहीं, भारी बारिश से नदी नाले भी उफान पर हैं। प्रशासन ने नदी नालों के किनारे बसे लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने की हिदायत दी है। 

डीसी मंडी अरिंदम चौधरी ने सड़कों के बंद होने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि प्रभावित सड़कों को ठीक करने के लिए मशीनरी व लेबर तैनात किए गए हैं। लेकिन भारी बारिश के चलते कार्य में बाधा आ रही है।

कांगड़ा में भी हो रही दिक्कत

कांगड़ा में बारिश से एक बार फिर जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई जगहों से भूस्खलन की खबरें आ रही हैं और इसी के कारण से पालमपुर-सुजानपुर हाईवे भाटिलु में बाधित हो गया है। 

 

वहीं देहरा-होशियारपुर (एनएच-503) सड़क व्यास पुल के निकट पहाड़ी का मलबा गिरने के कारण बंद हो गई है। पिछले दो-तीन घंटे से एनएच पर लगा जाम लगा हुआ है। पालमपुर में भारी बारिश के चलते पालमपुर-धर्मशाला वाया नगरी रोड बंद हो गया है। इस रोड पर यातायात सुबह चार बजे से प्रभावित है।

पालमपुर व धर्मशाला आने जाने वाली बसें अब लतवाला होते हुए जा रही हैं। लोगों को इस कारण काफी परेशानी हो रही है। लंज गगल धर्मशाला रोड दो तीन जगहों पर बंद होने की जानकारी आ रही है। बरोट घटासनी , बरोट लोहारडी, बरोट मियोट मुलथान, कोठी कोढ बोचीग रोलीग, सड़कें बंद हो गई हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here