न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Sat, 03 Apr 2021 10:47 AM IST

सार

शुक्रवार शाम को भटक कर आ गया था बच्चा
बीएसएफ के जवानों ने मासूम को पाकिस्तान को वापस भेजा
पाकिस्तान ने अभी तक नहीं लौटाया युवक

भारतीय सीमा में पाकिस्तान से आया बच्चा
– फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

भारत पाकिस्तान सीमा पर तैनात भारतीय जवानों ने एक बार फिर से मानवता का परिचय दिया है। जवानों ने एक नाबालिग को पाकिस्तान को सौंप दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राजस्थान के बाड़मेर में आठ साल का एक पाकिस्तानी बच्चा अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर भारत आ गया । सीमा की निगरानी कर रहे बीएसएफ के जवानों ने उस बच्चे को तुरंत पाकिस्तान को वापस दे दिया ।

घर का भटक गया था रास्ता

बीएसएफ गुजरात फ्रंटियर में डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल एमएल गर्ग ने कहा कि शुक्रवार शाम लगभग 5.20 बजे एक साल साल का बच्चा अनजाने में अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर बीएसएफ की 83वीं बटालियन के BoP सोमरत के बॉर्डर पिलर नंबर 888/2-S के पास भारतीय सीमा में घुस आया । जब बीएसएफ के जवानों ने उन्हें पकड़ा तो वह डर गया और रोने लगा। बीएसएफ जवान ने उसे चॉकलेट बिस्कुट देकर कर शांत कराया । उसके बाद उससे उसका अपना नाम, पिता का नाम और घर का पता पूछा। बच्चे ने पिता का नाम यमून खान और अपना करीम बताया साथ ही नगर पारकर का रहने वाला बताया। बच्चे ने बताया कि वह अपने घर का रास्ता भटक गया। जिससे यहां तक पहुंच गया।  

पाक रेंजरों से मीटिंग के बाद सौंपा गया बच्चा

बच्चा मिलने के बाद भारतीय सैन्य बल के अधिकारियों ने पाक रेंजरों के साथ फ्लैग मीटिंग की और उन्हें नाबालिग के पार होने की जानकारी दी। इसके बाद करीब 7.15 बजे बच्चे को वापस पाकिस्तानी रेंजर्स को सौंप दिया गया।

भारत ने दिखाई दरियादिली

गौरतलब है कि भारत ने कई अवसरों पर दरियादिली की मिशाल पेश की है, लेकिन पाकिस्तान ऐसा नहीं करता । नवंबर 2020 में बाड़मेर के ही बिजराड़ थाना क्षेत्र का 19 वर्षीय युवक गेमाराम मेघवाल अनजाने में अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर गया, लेकिन पाकिस्तान ने उसे अभी तक भारत को नहीं सौंपा है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here